Categories
poetry rants

my own bully

i am a good boy,i will tell you a story today,about the ying and yang, about the parts of me – which keep fighting within, about tanzim and me – about the bully and the victim. yes, i was bullied once,in school – at the basketball court,i was beaten up, left of the floor,in tears […]

Categories
poetry

महंगे सपने | Expensive Dreams

दिल थोड़ा टूट-सा गया था,आज रात, घबराइए मत-अब इसे संभाल लिए है| थोड़ा-सा टूटा, थोड़ीआंख भर आईं,सच बताऊँ तो,थोड़ा रोने का मनतो अब भी है| ना जाने एकदर्द-सा है सीनेमें, थोड़ा बतानेकी कोशिश करी उन्हें-बस थोड़ा ही,शायद आज इसदर्द के साथ ही सोनाहोगा, अगर नींद आई तो-अपनेपुराने सपनों कोजो याद कर लियाथोड़ा-सा-यहसपने बहुत महंगे है।